GenY


आपके हाथों में ताकत है, कुछ कर गुजरने की !


नौजवान एडॉप्शन से लगभग अछूते ही रहे हैं. ज़्यादातर लोगों की यही समझ रही है कि गोद तो अधेड़ उम्र के निस्संतान दम्पति ही लेते हैं - नौजवानों का भला इससे क्या लेना देना? इसी सोच का परिणाम है कि 6 करोड़ से भी अधिक निराश्रित बच्चे होते हुए भारत में 4000 से भी कम बच्चे गोद लिए जाते हैं.

नौजवानों के लिए यह एक सुनहर मौका है अपने देश के भविष्य को सुरक्षित बनाने का और एडॉप्शन की नयी सोच विकसित करने का.

शुरुआत में आप हमसे नव प्रारम्भक के तौर पर जुड़ सकते हैं. 20 और नव प्रारम्भक जोड़ने के माध्यम से आप नव प्रचारक बन सकते हैं. तत्पश्चात, एडॉप्शन से सम्बंधित किसी गूढ़ समस्या को सुलझाने के लिए किसी कार्यक्रम, परियोजना अथवा अभियान को पूरा करने से आप नव विशेषज्ञ बन सकते हैं. इन अवस्थाओं को पार करने के बाद आप हमारे नवदूत बन सकते हैं.




नव प्रारम्भक बन्ने के बाद आपको एक URN प्राप्त होगा, जिसके द्वारा आप अपने 20 अन्य मित्रों को नव प्रारम्भक बना सकते हैं, जो आपके URN का सन्दर्भ दे कर हमसे जुड़ते हैं.ऐसे 20 अन्य मित्रों के हमसे जुड़ते ही आप नव प्रचारक बन जाते हैं.हमारा आशय है की इस तरह ज्यादा से ज्यादा लोग हमसे जुड़े और एडॉप्शन की नयी सोच विकसित हो.


जब तक आप 20 नव प्रारम्भकों को हमसे जोड़ते हाँ तो आप ऐसे अन्य लोगों के संपर्क में आते हैं जो आप जैसे ही विचार रखते हों. अब बारी है कुछ बड़ा कर गुजरने की.निम्नलिखित कार्यों में से को एक चुने या फिर अपना कोई कार्य सुझाएँ.कोई भी एक असरदार कार्य पूरा करने पैर आप नव विशेषज्ञ की श्रेणी में आ जाते हैं.


अब हमें कुछ कहने की आवश्यकता ही नहीं. अब आपके बोलने की बारी है, क्योंकि आप हैं हमारे